1090 ने किया डिजिटल आउटरीच का शंखनाद, सम्भावित शोहदो पर भी रहेगी पुलिस की नज़र

लखनऊ – महिला सुरक्षा के लिए उत्तप्रदेश में चल रही 1090 वीमेन पावर लाइन द्वारा महिला सुरक्षा को और पुख्ता करने के लिए ‘हमारी सुरक्षा’मोबाइल हाथ में, 1090 साथ, में महिला सुरक्षा के लिए डिजिटल आउटरीच प्रोग्राम का शुभारंभ
किया गया

सोशल मीडिया के माध्यम से ऐसे लोगों तक पहुँचने का करेंगे प्रयास जो ग़लत तरीक़े से लड़कियों पर या पोर्नसाइट्स पर रखते है नज़र

उत्तर प्रदेश वीमेन पॉवरलाइन 1090’ ने आज एक डिजिटल आउटरीच प्रोग्राम ‘हमारी सुरक्षा’ का शुभारंभ किया, जिसमें ‘1090’ डिजिटल रूप से लोगों तकपहुंचता है, जागरूकता पैदा करता है, और डिवाइस इंटीग्रेशन समाधानों के लिए डेटा संकेतों को कैप्चर करता है।

आज लखनऊ में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में, एडीजी नीरा रावत ने उत्तर प्रदेश में डिजिटल चक्रव्यूह (महिला सुरक्षा के लिए 360 डिग्री इकोसिस्टम) के लिए एक डिजिटल आउटरीच रोडमैप साझा किया।

उन्होंने डिजिटल आउटरीच को लागू करने के फायदे बताते हुए आउटरीच के पारंपरिक तरीकों की कमियों की भी बात की।उन्होंने उत्तर प्रदेश के लोगों में जागरूकता पैदा करने के वृहद कार्य को अंजाम देने के लिए क्रॉस चैनल डिजिटल रणनीति के बारे में डेटा वैज्ञानिकों की एक टीम का उल्लेख किया।

इस टीम की रणनीति ग्रामीण महिलाओं के साथ जुड़ाव, साइकोमेट्रिक प्रोफाइलिंग द्वारा अपराधियों को लक्ष्य करने, प्रेडिक्टिव एनालिसिस करने , सामुदायिक भागीदारी को बढ़ावा देने और सामान्य लोगों से जुड़ाव बढ़ाने के लिए जागरूकता पैदा करने में सहायता करेगी। उन्होंने संगठन के ऑनलाइन और ऑफलाइन कार्यों के बीच एकीकरण पर जोर दिया।

Share This