ममता बनर्जी अहंकारी,खुद को संविधान से ऊपर समझती हैं दीदी- प्रधानमंत्री

पश्चिम बंगाल- पश्चिम बंगाल के आसनसोल में आज प्रधानमंत्री चुनाव करने पहुंचे जहाँ उन्होंने ममता दीदी पर जमकर हमला बोला,उन्होंने कहा कि ममता देश के संविधान से ऊपर खुद को समझती हैं और दावा किया कि तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष ने केंद्रीय बलों और सेना तक को ‘‘बदनाम’’ किया और राजनीति के लिए झूठे आरोप लगाए.

प्रधानमंत्री मोदी ने केंद्र सरकार की कई बैठकों से ममता बनर्जी की अनुपस्थिति को भी मुद्दा बनाया. उन्होंने आरोप लगाया कि ‘‘दीदी’’ अपने अहंकार में इतनी बड़ी हो गई है की हर कोई उन्हें अपने आगे छोटा दिखता है. उन्होंने कहा, ‘‘केंद्र सरकार ने अनेक बार अनेक विषयों पर बात करने के लिए बैठकें बुलाई है लेकिन दीदी कोई न कोई कारण बताकर इन बैठकों में नहीं आती हैं. कोरोना वायरस को लेकर बुलाई गई पिछली दो बैठकों में बाकी मुख्यमंत्री आए, लेकिन दीदी नहीं आईं.

नीति आयोग की संचालन परिषद और गंगा की सफाई के लिए बुलाई गई बैठकों में भी दीदी का दर्शन नहीं हुआ. एक दो बार ना आने तो समझ में आता है, लेकिन दीदी ने यही तरीका बना लिया है. दीदी बंगाल के लोगों के लिए कुछ देर का समय नहीं निकाल पाती हैं. यह उन्हें समय की बर्बादी लगता है. प्रधानमंत्री ने आरोप लगाया कि केंद्रीय दल जब जांच में सहयोग या फिर भ्रष्टाचार के मामलों के लिए राज्य में आते हैं तो उन्हें रोकने के लिए मुख्यमंत्री पूरा जोर लगा देती हैं

उन्होंने कहा,दीदी वोटबैंक के लिए कहां तक जाएंगी आप? सच्चाई ये है कि दीदी ने कूचबिहार में मारे गए लोगों की मृत्यु से भी अपना सियासी फायदा करने की सोची. शवों पर राजनीति करने की दीदी को बहुत पुरानी आदत है.बीजेपी की तरफ से शुक्रवार को कथित ऑडियो क्लिप जारी किए जाने के बाद राज्य की राजनीति में एक नया विवाद खड़ा हो गया प्रधानमंत्री ने दावा किया कि पश्चिम बंगाल के लोगों में ममता बनर्जी के खिलाफ जबरदस्त गुस्सा है और दो मई को दीदी की सरकार का जाना पक्का है.

Share This