स्पाइसजेट ने अपने कर्मचारियों का 50 प्रतिशत तक वेतन रोका

नई दिल्ली-देश की अग्रणी एयरलाइन कम्पनी स्पाइसजेट ने कोरोना महामारी की दूसरी लहर के चलते कारोबार प्रभावित होने के कारण से अप्रैल में बड़ी संख्या में कर्मचारियों का 50 प्रतिशत तक वेतन रोका है. सूत्रों के मुताबिक पायलट और केबिन क्रू सहित कर्मचारियों का अप्रैल का वेतन 10 से 50 फीसदी तक रोका गया है.

हालांकि, ड्राइवरों जैसे जूनियर कर्मचारियों को अप्रैल में पूरी तनख्वाह दी गई है. विमानन कंपनी ने एक बयान में कहा कि उसके अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक (सीएमडी) अजय सिंह अप्रैल में कोई वेतन नहीं लेंगे. कोविड-19 संक्रमण की दूसरी लहर से विमानन क्षेत्र भी प्रभावित हुआ है, क्योंकि हवाई यात्रियों की संख्या में काफी कमी आई है. स्पाइसजेट के प्रवक्ता ने कहा कि किसी भी कर्मचारी के वेतन में कोई कटौती नहीं होगी.

विमानन कंपनी यह सुनिश्चित कर रही है कि कम वेतनमान वाले कर्मचारियों को वेतन टाले जाने से कोई दिक्कत न हो और उन्हें पूरा वेतन दिया जाएगा. उन्होंने कहा, सीएमडी ने अपना पूरा वेतन छोड़ने का फैसला किया है. यह केवल एक अस्थाई उपाय है और कंपनी द्वारा रोके गए वेतन का भुगतान हालात पूरी तरह सामान्य होने के बाद किया जाएगा.

Share This