लॉकडाउन में बढ़ सकती है देश की जनसंख्या

नई दिल्ली – कोरोना वायरस की महामारी से दुनिया के कई देश लड़ रहे है वही मौत का आंकड़ा भी लगातार आगे बढ़ रहा है. इससे बचाव का एक मात्र उपाय है लॉक डाउन क्योंकि अब तक इसकी कोई वैक्सीन नहीं बन सकी है. इस बीच संयुक्त राष्ट्र ने एक महत्वपूर्ण जानकारी लोगों से साझा की है. लोग घरों में हैं और ज्यादातर समय अपनी पत्नी के साथ बिता रहे हैं. इस वजह से जनसंख्या वृद्धि हो सकती है. ज्यादातर महिलाएं अनचाहे गर्भ धारण कर रही हैं.

संयुक्त राष्ट्र के मुताबिक कई दिनों से घर पर ही रहकर अनचाहे गर्भधारण के 70 लाख मामले सामने आ सकते हैं. यह बात संयुक्त राष्ट्र के अध्ययन से सामने आयी है. संयुक्त राष्ट्र जनसंख्या कोष (यूएनएफपीए) ने कहा है कि कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए लागू बंद के कारण प्रमुख स्वास्थ्य सेवाओं के बाधित हो जाने से निम्न और मध्यम आय वाले देशों में करीब पांच करोड़ महिलाएं आधुनिक गर्भनिरोधकों के इस्तेमाल से वंचित रह सकती हैं जिनसे आने वाले महीनों में अनचाहे गर्भधारण के 70 लाख मामले सामने आ सकते हैं.

Share This